Advertisement

बाबर आजम (Babar Azam) ने चार में से दो टेस्ट घरेलू सरजमीं पर जीते हैं. साल 2011-12 में पाक टीम ने लगातार 13 सीरीज जीती थी. इससे पहले पाकिस्तानी टीम 1993-94 और 2017-18 में लगातार छह सीरीज जीत चुकी है.

Advertisement

तेज गेंदबाज नोमान अली (5/86) और शाहीन अफरीदी (5/52) की शानदार गेंदबाजी के दम पर पाकिस्तान ने हरारे स्पोटर्स क्लब मैदान पर खेले गए दूसरे और अंतिम टेस्ट मैच के चौथे दिन जिम्बाब्वे को पारी और 147 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही पाकिस्तान ने दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-0 से क्लीन स्वीप कर हासिल कर ली।

पाकिस्तान को चौथे दिन जीत के लिए केवल एक विकेट की जरूरत थी। शाहीन शाह अफरीदी ने दिन के पांचवें ओवर में ही ल्यूक जोंगवे (37) को विकेटकीपर मोहम्मद रिजवान के हाथों कैच कराकर जीत की औपचारिकता पूरी की। पाकिस्तान ने इसी मैदान पर खेला गया पहला टेस्ट मैच पारी और 116 रन से जीता था।

यह पाकिस्तान की लगातार छठी टेस्ट सीरीज जीत थी। साथ ही साथ युवा बाबर आजम अपने शुरुआती चार टेस्ट में कामयाबी का झंडा गाड़ने वाले पहले पाकिस्तानी कप्तान भी बन गए। इस साल की शुरुआत में पाक टीम ने अपनी सरजमीं पर दक्षिण अफ्रीका को टेस्ट और टी-20 में मात दी थी। बाबर ने चार में से दो टेस्ट घरेलू सरजमीं पर जीते हैं।Imageदुनिया के नंबर एक वनडे बल्लेबाज को अब टेस्ट क्रिकेट में भी रंग में आना होगा। अगस्त-सितंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ दो और बांग्लादेश के खिलाफ भी इतने ही टेस्ट मैच खेलने हैं। 2011-12 में इस टीम ने लगातार 13 सीरीज जीती थी। 2011-12 में नौ, 2015-16 में लगातार आठ श्रृंखलाएं अपने नाम की। इससे पहले 1993-94 और 2017-18 में लगातार छह सीरीज पाकिस्तानी टीम जीत चुकी है।

बाबर आज़म ने सबसे कम उम्र में लगातार 4 टेस्ट जीतने के मामले में धोनी को पछाड़ दिया. इसके अलावा वह 70 साल के इतिहास ऐसे पहले पाकिस्तानी बन गए हैं जिन्होने लगातार शुरूआती 4 टेस्ट जीते हैं.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *