Advertisement

क्रिकेट के खेल में आए दिन कुछ नये रिकार्ड बनते हैं औऱ कुछ पुराने रिकार्ड्स टूटते हैं.

Advertisement

दरअसल ये मैच इंग्‍लैंड (England) के घरेलू वनडे टूर्नामेंट चेल्‍टनहेम एंड ग्‍लूसेस्‍टरशायर यानी C&G Trophy में सरे और ग्‍लेमोर्गन (Surrey vs Glamorgan) के बीच 19 जून 2002 को खेला गया था. पहले बल्‍लेबाजी करते हुए सरे ने 5 विकेट खोकर 438 रनों का विशालकाय स्‍कोर खड़ा किया.

इसमें मुख्‍य तौर पर ओपनर अली ब्राउन (Ali Brown) का ही योगदान रहा जिन्‍होंने सिर्फ 160 गेंदों पर 268 रन जड़ दिए. उन्‍होंने 30 चौकों और 12 छक्‍कों की मदद से 192 रन तो अकेले 42 गेंदों पर ही ठोक दिए थे.

इसके अलावा इयान वार्ड ने 95 गेंदों पर 8 चौकों और 4 छक्‍कों की मदद से 97 रन की पारी खेलकर अली ब्राउन का अच्‍छा साथ निभाया. दोनों ने पहले विकेट के लिए 286 रन की साझेदारी कर रिकॉर्ड कायम किया.

एक गेंद बाकी रहते 9 रन दूर रह गया लक्ष्‍य
मुकाबला यूं तो एकतरफा लग रहा था लेकिन ऐसा हुआ नहीं. जवाब में ग्‍लेमोर्गन ने भी पूरा जोर लगाया लेकिन दो शतकों के बावजूद टीम लक्ष्‍य से 9 रन दूर रह गई. ग्‍लेमोर्गन ने एक गेंद शेष रहते 429 रनों पर ऑलआउट हो गई.

टीम के लिए कप्‍तानी पारी खेलते हुए रॉबर्ट क्राफ्ट ने 69 गेंदों पर 119 रन बनाएऔर उन्‍होंने इस पारी में 18 चौके और 3 छक्‍के जड़े. उनके अलावा डेविड हेंप ने भी 10 चौकों और तीन छक्‍कों की मदद से 88 गेंदों पर 102 रन की पारी खेली.

डेरेन थॉमस 41 गेंद पर 71 रन बनाकर नाबाद लौटे. वहीं एड्रियन डेले ने 33 गेंद पर 49 रनों का योगदान दिया. इस तरह इस मैच में कुल 867 रन बने ये तब एक वर्ल्‍ड रिकॉर्ड था और अली ब्राउन की 268 रन की पारी भी तब विश्‍व कीर्तिमान के तौर पर दर्ज हुई थी.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *