Advertisement

इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच तीसरा वनडे मैच खेला जा रहा है|

Advertisement

पाकिस्‍तान के कप्‍तान बाबर आजम ने मंगलवार को इंग्‍लैंड के खिलाफ तीसरे व अंतिम वनडे में अपनी लय हासिल कर ली है। पहले दो वनडे में क्रमश: 0 और 19 रन बनाने वाले पाकिस्‍तानी कप्‍तान ने तीसरे वनडे में बल्‍ले से दम दिखाया और अपने वनडे करियर का 14वां शतक पूरा किया।

बर्मिंघम में जारी तीसरे वनडे में बाबर आजम ने 104 गेंदों में 9 चौके और दो छक्‍के की मदद से सैकड़ा पूरा किया। हालांकि, बाबर आजम के साथ वनडे में पहली बार कुछ ऐसा हुआ, जो आज तक नहीं हुआ था। बाबर आजम पहली 10 गेंदों में खाता नहीं खोल पाए थे। अपना 83वां वनडे खेल रहे बाबर आजम के साथ पहली बार ऐसा हुआ कि उन्‍हें खाता खोलने के लिए 10 या ज्‍यादा गेंदों की जरूरत पड़ी।

बता दें कि बाबर आजम ने 14 गेंदों तक खाता नहीं खोला था। जी हां, बाबर आजम को पहला रन बनाने के लिए 15 गेंदों का सहारा लेना पड़ा था। बाबर आजम ने शुरूआती 36 गेंदों में केवल 14 रन ही बनाए थे। इसके बाद अगली 16 गेंदों में उन्‍होंने 19 रन बनाकर अपनी रन बनाने की गति में इजाफा किया।

देखते ही देखते बाबर आजम ने अपना 18वां वनडे अर्धशतक पूरा किया। आजम ने 72 गेंदों में पांच चौके की मदद से 50 रन पूरे किए। बाबर आजम ने इमाम उल हक (56) के साथ दूसरे विकेट के लिए 92 रन की साझेदारी की। दोनों ने टीम का स्‍कोर 100 रन के पार लगाया।

फॉर्म में लौटते ही क्रिकेट फैंस को आईसीसी वनडे रैंकिंग में नंबर-1 बल्‍लेबाज का जलवा देखने को मिला। बाबर आजम ने मोहम्‍मद रिजवान के साथ शतकीय साझेदारी करके पाकिस्‍तान के बड़े स्‍कोर की नींव रखी।

26 साल के बाबर आजम ने पारियों के मामले में सबसे जल्‍दी 14 वनडे शतक पूरे किए। आजम ने 81 पारियों में 14 वनडे शतक पूरे किए। बाबर आजम ने सबसे तेज 14 शतक लगाने के मामले में युवराज सिंह को पीछे छोड़ा।

बाबर आजम बतौर कप्तान तीसरा शतक जड़कर सबसे ज्यादा शतक जड़ने के मामले में शाहिद अफरीदी (2 शतक) को पीछे छोड़ा। वहीं इस वर्ष दूसरा शतक ठोका बाबर ने सर्वाधिक शतक जड़ने के मामले में राहुल को पीछे छोड़ा।

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *