BCCI ने इन 5 भारतीय क्रिकेटर को मौका देने में कर दी जल्दबाजी, अभी नहीं थे टीम इंडिया की जर्सी पहनने लायक - The Focus Hindi

BCCI ने इन 5 भारतीय क्रिकेटर को मौका देने में कर दी जल्दबाजी, अभी नहीं थे टीम इंडिया की जर्सी पहनने लायक

30 seconds सेकंड में वीडियो अपने आप प्ले हो जाएगी , PLEASE इंतजार करें

टीम इंडिया (Team India) के लिए खेलना हर किसी खिलाड़ी का सपना होता है. जिसके लिए वो दिन रात मेहनत करते हैं. ताकि उनकी नैशनल टीम में एंट्री हो सके. वैसे किसी भी खिलाड़ी के लिए अपने देश का प्रतिनिधित्व करना ना केवल उनके लिए बल्कि उनके प्रियजनों के लिए भी बहुत गर्व की बात होती है. इसलिए भारत को क्रिकेट के दीवानों का देश कहा जाता है. जहां खिलाड़ियों की केवल प्रशंसा ही नहीं बल्कि उन्हें देवताओं के रूप में पूजा भी जाता है.
किसी भी खिलाड़ी के लिए राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करना एक उत्साहजनक क्षण होता है. वहीं भारत में आईपीएल के आ जाने के बाद युवा खिलाड़ियों को 130 करोड़ की आबादी वाले देश में अपने हुनर को दिखाने का प्लेटफॉर्म मिला. आईपीएल शानदार प्रदर्शन के चलते अपनी यात्रा को टीम इंडिया के द्वार तक पहुंचाया. चलिए जानते हैं कौन हैं वो 5 खिलाड़ी जिन्हें समय से पहले Team India में खेलने का मौका मिला.

Advertisement

वरूण चकवर्ती (Varun Chakravarthy) को आईपीएल और टीएनपीएल में प्रभावशाली प्रदर्शन के साथ चलते टीम इंडिया में खेलने का मौका मिला. उन्होंने शिखर धवन की कप्तानी में साल 2021 में श्रीलंका के खिलाफ अपने पहला इंटरनेशल मुकाबला खेला. इसी साल उन्होंने अपना आखिरी मैच स्कॉटलैंड के खिलाफ खेला. उसके बाद से वरूण चकवर्ती टीम से बाहर चल रहे हैं.

चक्रवर्ती ने श्रीलंका खिलाफ टी20ई में तीन मैचों में 5.30 की इकॉनमी से सिर्फ दो विकेट झटके. साथ उन्होंने पिछले साल आईपीएल 2021 में 17 मैचों में 18 विकेट अपने नाम किए. हालांकि उन्हें पिछले साल टी20 विश्व कप में 3 मुकाबले खेलने का मौका मिला जिसमें वो एक विकेट भी अपने नाम नहीं कर पाए. यही कारण है टीम इंडिया टी20 विश्व कप ग्रुप स्टेज से बाहर होना पड़ा. उसके बाद वरूण अपने रंग में नजर नहीं आए जिसके लिए वो जाने जाते हैं.

इस लिस्ट में बैटिंग ऑलराउंडर विजय शंकर (Vijay Shankar) का नाम भी शामिल है. जिन्हें 2019 के वनडे विश्वकप की भारतीय टीम में शामिल करने के लिये अंबाती रायुडू को बाहर कर दिया गया था. जिसके बाद अंबाती रायुडू और चयनकर्ता के बीच ‘3D चश्मे’ वाले बयान को लेकर ट्विटर पर जंग सी छिड़ गई थी. विजय शंकर को टीम में शामिल करते हुए मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा था कि शंकर टीम को थ्री डी आयाम प्रदान करेंगे. इस बयान के बाद रायडू ने चयनकर्ताओं पर तंज कसते हुए ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मैंने थ्री डी चश्मे का पेयर ऑर्डर किया है.
शंकर 2019 विश्वकप के दौरान अपना पूरा योगदान भी नहीं दे सके और टूर्नामेंट के बीच में ही चोटिल होकर भारत वापस लौटे आए थे. विजय शंकर एक बार टीम से बाहर हुए तो भारतीय टीम में दोबारा वापसी नहीं कर सके हैं. वहीं उन्हे पिछले 3 सालों से कोई मौका नहीं मिला है. जिसे देखकर ऐसा लगता है कि भारतीय टीम के लिये उनके लिए दरवाजे बंद हो चुके हैं. वैसे विजय शंकर ने टीम इंडिया (Team India) के लिए 12 वनडे औप 9 टी20 मैच खेले हैं.
कर्नाटक के ऑलराउंडर कृष्णप्पा गौतम (Krishnappa Gowtham) इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में तीन फ्रेंचाईजियों के लिए खेल चुके हैं. उन्होंने अपने समय के दौरान राजस्थान रॉयल्स में खेलते हुए अपनी शानदार गेंदबाजी के चलते सबका ध्यान अपनी और खींचा था.

कृष्णप्पा गौतम को भी चक्रवर्ती की तरह भारतीय टीम का कैप हासिल करने के लिए इंतजार करना पड़ा. गौतम ने भी अंतिम एकदिवसीय मैच में श्रीलंका दौरे पर अपने करियर की शुरूआत की. उन्होंने अपने पहले डेब्यू मैच में सिर्फ दो रन बनाए और आठ ओवर में 49 रन देकर भानुका का विकेट लिया. अजीब बात यह है कि इस 33 वर्षीय खिलाड़ी ने मात्र एक अंतरराष्ट्रीय मैच खेला है. हालांकि, कृष्णप्पा का टीम इंडिया (Team India) के लिए दोबारा खेल पाना मुश्किल लग रहा है.

Advertisement

Leave a Comment