7 क्रिकेटर जो गेंदबाज बनने आये थे और बन गए महान बल्लेबाज, कई भारतीय शामिल – The Focus Hindi

7 क्रिकेटर जो गेंदबाज बनने आये थे और बन गए महान बल्लेबाज, कई भारतीय शामिल

क्रिकेट में प्रत्येक खिलाड़ी अपना मनपसंद फील्ड चुनना चाहता है. कोई खिलाड़ी गेंदबाज बनाना चाहता है और कोई बल्लेबाज बनाना चाहता है. लेकिन यह ज़रूरी नहीं कि वह अपनी मनपसंद फील्ड में अच्छा हो. आज हम क्रिकेट जगत के 5 विस्फोटक बल्लेबाज के बारे में बात करेंगे जो गेंदबाज बनाना चाहते थे.

1. रोहित शर्मा
वर्ल्ड क्रिकेट में विस्फोटक बल्लेबाजी करने वाले रोहित शर्मा ने बल्लेबाजी ने कई बड़े रिकॉर्ड बनाए है. लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि रोहित शर्मा ने क्रिकेट में शुरूआत बतौर गेंदबाज की थी. लेकिन जूनियर क्रिकेट में श्रीलंका के खिलाफ गेंदबाजी के दौरान उनके सीधे हाथ की उंगली में फ्रैक्चर हो गया था. चोट के बाद बॉल पर ठीक से ग्रिप ना बनने के कारण उन्होंने बल्लेबाजी पर ध्यान देना शुरू किया. आज वह एक विस्फोटक बल्लेबाज है.

2. स्टीव स्मिथ
ऑस्ट्रेलिया टीम के विस्फोटक खिलाड़ी स्टीव स्मिथ ने अपने क्रिकेट कैरियर की शुरूआत गेंदबाज के रूप में की थी. लेकिन स्मिथ ने तत्काल कप्तान रिकी पोंटिंग की बात मान के बल्लेबाजी करनी शुरू की. उसके बाद उन्होंने बहुत शानदार प्रदर्शन किया है.

3. केविन पीटरसन
केविन पीटरसन इंग्लैंड टीम के शानदार बल्लेबाज रहे है. लेकिन क्या आपको पता है कि उन्होंने अपने क्रिकेट की शुरूआत बतौर लेग स्पिनर की थी. लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उन्होंने बल्लेबाजी में बहुत नाम कमाया है.

4. सनथ जयसूर्या
श्रीलंका टीम के पूर्व बल्लेबाज सनथ जयसूर्या ने क्रिकेट की शुरूआत बतौर लेग स्पिनर की थी. शुरूआत में उन्होंने कुछ खास बल्लेबाजी नहीं करी थी. लेकिन बाद में वह शानदार बल्लेबाजी कर के एक महान बल्लेबाज बन गए.

5. सचिन तेंदुलकर
क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर का सपना तेज़ गेंदबाज बनने का था.  लेकिन चेन्नई में स्थित MRF पेस फाउंडेशन के प्रमुख डेनिस लिली ने उन्हें ऐसा करने से मना कर दिया. इसके बाद सचिन तेंदुलकर ने बल्लेबाजी की ओर ध्यान देना शुरू किया और इसका नतीजा आज आप सब लोगों के सामने है.

6. शोएब मलिक
37 वर्षीय पाकिस्तानी क्रिकेटर ने हाल ही में विश्व कप अभियान के बाद एकदिवसीय मैचों से संन्यास ले लिया है। शोएब मालिक ने अपने 20 साल के क्रिकेट करियर में एक मध्य क्रम बल्लेबाज के रूप में अपना नाम बनाया है. हालांकि,17 साल की उम्र में, उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ एक ऑफ स्पिनर के रूप में अंतर्राष्ट्रीय शुरुआत की और उनकी बल्लेबाजी प्रतिभा के कारण टीम उनके साथ बनी रही. उन्होंने सलामी बल्लेबाज के रूप में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट शतक बनाया नंबर 3 बल्लेबाज, मध्य क्रम के बल्लेबाज और यहां तक कि फिनिशर के रूप में भी अच्छा प्रदर्शन किया है.

7.  शाहिद अफरीदी
शाहिद अफरीदी का मामला एक असामान्य है और वह ऊपर सभी खिलाड़ीयों से काफी अलग हैं. अफरीदी को उनके लेग-ब्रेक गेंदबाजी के कारण 16 वर्षीय के रूप में पाकिस्तान क्रिकेट टीम में शामिल किया गया था. हालाँकि, अपने दूसरे वनडे में, उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 37 बॉल पर शतक लगाया जो सबसे तेज़ एकदिवसीय शतक बन गया- एक रिकॉर्ड जो उन्होंने 17 साल तक बनाए रखा जब तक कि कोरी एंडरसन ने 2014 में 36 बॉल पर शतक नहीं बनाया.

Leave a Comment