Advertisement

भारतीय क्रिकेट के इतिहास में कई ऐसे गेंदबाज रहे हैं, जो शानदार शुरूआत के बाद ज्यादा कामयाबी हासिल नहीं कर पाये.

Advertisement

आज हम भी आपकों अपने इस खास लेख में भारतीय टीम के तीन ऐसे गेंदबाजो का नाम बताएंगे, जो शुरूआती कुछ मैचों में शानदार प्रदर्शन के बाद बुरी तरह फ्लॉप हो गये. आइए जानते हैं इनके बारे में-

5- लक्ष्मीपती बालाजी

4- आविष्कार साल्वी

3. इरफान पठान
इरफान पठान ने साल 2004 में अपने क्रिकेट करियर की शुरूआत धमाकेदार अंदाज में की थी. शुरूआत में उनकी गेंदबाजी में गजब की स्विंग थी. जिसके चलते उन्हें खेलना बहुत मुश्किल होता था. इरफ़ान पठान को 2004 में ‘इमर्जिंग प्लेयर ऑफ़ द ईयर’ का खिताब भी आईसीसी की तरफ से मिला था.

वह भारत के एकलौते ऐसे गेंदबाज हैं. जिन्होंने पहले ओवर में ही हैट्रिक लेने का कारनामा किया हुआ हैं, लेकिन बाद में वह गेंदबाजी में बेअसर दिखाने लगे. उन्होंने भारतीय टीम के लिए 29 टेस्ट मैच, 120 वनडे मैच और 24 टी-20 मैच खेले हैं.

2. मोहित शर्मा
मोहित शर्मा ने अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू साल 2013 में किया था. वह भारतीय टीम के लिए अपने शुरूआती करियर में काफी अच्छी गति के साथ गेंदबाजी कर रहे थे. वह अपनी स्विंग गेंदबाजी से बल्लेबाजों को काफी परेशान कर रहे थे.

न्होंने भारतीय टीम के लिए साल 2015 के विश्व कप में भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया. लेकिन विश्व कप 2015 के बाद लगातार उनकी गेंदबाजी में गिरावट आने लगी और इसका नतीजा यह हुआ, कि वह भारतीय टीम से बाहर हो गये. उन्होंने भारतीय टीम के लिए 26 वनडे मैच और 8 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले.

Who is former cricketer RP Singh, whose father died?- कौन हैं पूर्व क्रिकेटर आरपी सिंह, जिनके पिता का हुआ निधन ?1. आरपी सिंह
आरपी सिंह भी ऐसे गेंदबाज रह चुके हैं. जो अच्छी शुरूआत के बाद गायब हो गये. वह भी अपनी शानदार स्विंग गेंदबाजी के लिए पहचाने जाते थे.

उन्होंने भारतीय टीम को टी-20 विश्व कप 2007 जीताने में भी काफी अहम भूमिका निभाई थी, लेकिन वक्त के साथ आरपी सिंह की स्विंग खो गई और वह हर मैच में काफी महंगे साबित होने लगे. उन्होंने भारतीय टीम के लिए 14 टेस्ट मैच, 58 वनडे मैच और 10 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हुए हैं.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *