सैफ के बेटे इब्राहिम अली खान इस फिल्म से लेंगे बॉलीवुड में एंट्री, पिता के जैसे नहीं बन सकेंगे हीरो – The Focus Hindi

सैफ के बेटे इब्राहिम अली खान इस फिल्म से लेंगे बॉलीवुड में एंट्री, पिता के जैसे नहीं बन सकेंगे हीरो

सैफ अली खान की बेटी सारा अली खान तो बॉलीवुड में एंट्री ले चुकी हैं और अपनी परफॉर्मेंसेस से सबका दिल भी जीत रही हैं.

अब सैफ के बड़े बेटे इब्राहम अली खान (Ibrahim Ali Khan) को भी फैंस बड़े पर्दे पर देखना चाहते हैं. हाल ही में सैफ ने बताया कि इब्राहिम जल्द ही एक बॉलीवुड फिल्म में काम करते नजर आएंगे. लेकिन फिलहाल बतौर एक्टर नहीं.

दरअसल, सैफ ने हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि इब्राहिम, करण जौहर को उनकी अपकमिंग फिल्म रॉकी और रानी की प्रेम कहानी में असिस्ट कर रहे हैं. वह फिल्म में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम करने वाले हैं. उन्होंने ये भी बताया कि इब्राहिम अपने काम के बारे में उनसे डिस्कस भी करते रहते हैं. हालांकि, उनके पिता सैफ ने बतौर एक्टर बॉलीवुड में एंट्री की थी

वैसे बता दें कि कई एक्टर्स बतौर एक्टर अपना करियर शुरू करने से पहले असिस्टेंट डायरेक्टर बन चुके हैं. वे कैमरा के पीछे रहकर सारी चीजें सीखते हैं. वरुण धवन, सिद्धार्थ मल्होत्रा, रणवीर सिंह जैसे स्टार्स भी पहले असिस्टेंट डायरेक्टर रह चुके हैं.

फिल्म रॉकी और रानी की प्रेम कहानी के बारे में बता दें कि इस फिल्म के जरिए करण जौहर 5 साल बाद बतौर डायरेक्टर वापसी कर रहे हैं. करण ने लास्ट ऐ दिल है मुश्किल डायरेक्ट की थी. रॉकी और रानी की प्रेम कहानी में रणवीर सिंह, आलिया भट्ट, धर्मेंद्र और शबाना आजमी लीड रोल में हैं.

वहीं अपने चारों बच्चों के साथ बॉन्ड को लेकर सैफ ने कहा, वो सभी अलग हैं. इब्रहिम से मैं उसके काम को लेकर बात करता रहता हूं. सारा सबसे बड़ी हैं और हमारी काफी अलग इक्वेशन है. तैमूर को अभी गाइडेंस चाहिए और जेह तो स्माइल करता रहता है और हमेशा उसकी लार टपकती रहती है. वह सबसे छोटा है. ये काफी अच्छी बात है कि चारों अलग हैं और जैसे कि सारा कह चुकी है कि मेरी जिंदगी के हर दशक में मेरे बच्चे हुए हैं. 20 से लेकर 50 तक तो मैं भी अलग हूं.

वैसे भले ही सारा और इब्राहिम बॉलीवुड में अपना करियर बनाना चाहते हैं, लेकिन करीना नहीं चाहतीं कि उनके बेटे तैमूर और जेह फिल्म स्टार्स बनें. करीना ने एक इंटरव्यू में कहा था, मैं बहुत खुश होंगी अगर एक दिन तैमूर कहे कि वह कुछ और बनना चाहता है जैसे माउंट एवरेस्ट पर चढ़ना. खैर वो सब उसकी च्वाइस होगी. मैं हमेशा अपने बच्चों के साथ रहूंगी और उन्हें सपोर्ट करूंगी.

Leave a Comment