सिकंदर की सेना बनी क्रिकेट टीम, पहले हारे लगातार 4 मैच, फिर 13 मैचों में 12 जीत बनी T20 ब्लास्ट चैंपियन – The Focus Hindi

सिकंदर की सेना बनी क्रिकेट टीम, पहले हारे लगातार 4 मैच, फिर 13 मैचों में 12 जीत बनी T20 ब्लास्ट चैंपियन

क्रिकेट की टीम ना हो सिकंदर की सेना ही हो. उसने हारी बाजी पलट दी. ना सिर्फ टूर्नामेंट में बल्कि उस फाइनल मुकाबले में भी जो 16 जुलाई की शाम खेला गया. हम बात कर रहे हैं T20 ब्लास्ट (T20 Blast) में हैम्पशर और लैंकशर के बीच खेले फाइनल मुकाबले की.

ये मुकाबला हैम्पशर ने जितने रोमांचक अंदाज में जीता उतना ही रोचक रहा टूर्नामेंट में उसका सफर. आसान नहीं होता शुरुआती झटकों से उबरना लेकिन हैम्पशर ने किया और ऐसा किया की T20 ब्लास्ट की सबसे सफल टीम का तमगा भी खुद से जोड़ लिया.

T20 ब्लास्ट में हैम्पशर की शुरुआत बेहद खराब रही थी. टीम ने शुरुआती 4 मुकाबले एक के बाद एक गंवा दिए थे. लेकिन फिर उसके बाद उसने वापसी की अपनी पटकथा लिखनी शुरू की और अगले 13 मुकाबलों में से 12 जीतकर चैंपियन का चोला पहन लिया.

हैम्पशर बनी सबसे सफल टीम

वो कहते हैं ना आगाज जैसा भी हो, अंजाम अच्छा होना चाहिए. हैम्पशर का खेल भी T20 ब्लास्ट में कुछ ऐसा ही रहा. तभी उसने वो मुकाम हासिल किया, जो टूर्नामेंट के इतिहास में उससे पहले सिर्फ लिसेस्टरशर को हासिल था. तीसरी बार खिताब पर कब्जा जमाते हुए हैम्पशर अब T20 ब्लास्ट की सबसे सफल टीम बन गई है.

ऐसा रहा फाइनल का रोमांच

अब जरा जानिए कि हैम्पशर ने फाइनल जीत खिताब पर कब्जा कैसे जमाया? तो इस काम में उसके लिए बल्ले से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बेन मैक्डॉरमट ने बड़ी भूमिका निभाई. उन्होंने 36 गेंदों पर 62 रन जड़े, जिसमें 4 चौके, 4 छक्के शामिल रहे. बेन मैक्डॉरमट की इस तूफानी पारी के दम पर हैम्पशर ने पहले खेलते हुए 20 ओवरों में 8 विकेट पर 152 रन बनाए.

Leave a Comment