वर्ल्ड कप में गोल्डन बैट जीतने वाले 3 भारतीय बल्लेबाज, न० 1 ने बदली टीम इंडिया की किस्मत - The Focus Hindi

वर्ल्ड कप में गोल्डन बैट जीतने वाले 3 भारतीय बल्लेबाज, न० 1 ने बदली टीम इंडिया की किस्मत

30 seconds सेकंड में वीडियो अपने आप प्ले हो जाएगी , PLEASE इंतजार करें

क्रिकेट विश्वकप खेलने का सपना प्रत्येक खिलाड़ी का होता है. हालांकि बहुत कम क्रिकेटर्स का ही ये सपना पूर्ण हो पाता है. गौरतलब है कि विश्वकप में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी को गोल्डन बैट के पुरस्कार से पुरस्कृत किया जाता है. टीम इंडिया ने दो बार आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप का ख़िताब जीता है. आज के इस लेख में हम आपको विश्व कप में गोल्डन बैट जीतने वाले भारतीय बल्लेबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं. आइये जानते हैं इनके बारे में-

Advertisement

सचिन तेंदुलकर
1996 के वर्ल्ड कप में सचिन तेंदुलकर सबसे ज्यादा रन बनाए थे. सचिन तेंदुलकर ने 1996 वर्ल्ड कप में सिर्फ 7 मैचों में 523 रन बनाए. इस दौरान सचिन के बल्ले से दो शतक और तीन अर्धशतक निकले. 1996 विश्व कप में पहली बार किसी भारतीय गोल्डन बैट जीता.

सचिन तेंदुलकर
मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने 2003 में दक्षिण अफ्रीका में खेले गए वर्ल्ड कप में भी सबसे ज्यादा रन बनाए थे. इस दौरान तेंदुलकर ने 11 मैचों में 673 रन बनाए थे जो एक रिकॉर्ड है. इस दौरान सचिन का उच्चतम स्कोर 153 रन था.

रोहित शर्मा

Rohit Sharma। रोहित शर्मा ने खुद खोला अपनी सफलता का राजटीम इंडिया का हिटमैन रोहित शर्मा ने वर्ल्ड कप 2019 में आठ मैच खेले और 648 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 5 शतक और एक अर्धशतक जड़कर गोल्डन बैट पर कब्जा जमाया.

राहुल द्रविड़
भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने 1999 के विश्व कप में गोल्डन बैट का पुरस्कार जीता था. इस दौरान टीम इंडिया की दीवार द्रविड़ ने 8 मैचों में 461 रन बनाए थे. राहुल द्रविड़ ने बल्ले से 2 शतक और 3 अर्धशतक जमाए. द्रविड़ का इस दौरान उच्चतम स्कोर 145 रन रहा.

Advertisement

Leave a Comment