भारतीय गेंदबाज का अद्भुत प्रदर्शन, बिना रन दिए हैट्रिक समेत10 विकेट लिए, इतिहास के ऐसे पहले बॉलर बने – The Focus Hindi

भारतीय गेंदबाज का अद्भुत प्रदर्शन, बिना रन दिए हैट्रिक समेत10 विकेट लिए, इतिहास के ऐसे पहले बॉलर बने

क्रिकेट का खेल अपने अनोखे, और मजेदार रिकॉर्ड के लिये जाना जाता है. इस खेल में नित-प्रतिदिन कुछ नए रिकॉर्ड बनते है और कुछ पुराने टूट जाते हैं.

क्रिकेट में जब से टी-20 प्रारूप का आगमन हुआ है तब से आए दिन कई छोटे-बड़े रिकॉर्ड देखने का मिलते है. लेकिन कई बार कुछ रिकॉर्ड इतने अद्भुत होते है की उन पर यकीन कर पाना भी मुश्किल हो जाता है.

हर दिन बदलते क्रिकेट के बीच राजस्थान की राजधानी जयपुर में ऐसा ही कुछ देखने को मिला. जिसके बारे में कोई कभी कल्पना भी नहीं की होगी की चार ओवर में कोई गेंदबाज ऐसा भी कर सकता है. यहां खेले गए एक घरेलू टी20 मैच में 15 वर्षीय आकाश चौधरी ने अपने चार ओवर के स्पैल में पूरी टीम को अकेले ही ऑल ऑउट कर दिया. खास बात यह रही की इस दौरान उन्होने सभी ओवर मेडन फेंक.15-year-old bowler makes history, takes 10 wickets in local match

आकाश ने पहले ओवर में आकाश ने दो विकेट लिए. दूसरे और तीसरे ओवर में फिर दो विकेट लिए और अपने चौथे और आखिरी ओवर में चार विकेट लिए.

आखिरी ओवर में आकाश ने हैट्रिक भी ली.आकाश का यह प्रदर्शन क्रिकेट के इतिहास में सबसे खतरनाक गेंदबाजी प्रदर्शनो में से एक है. क्यूकिं टी-20 या 50 ओवर में के किसी भी मैच में अर्न्तराष्ट्रीय स्तर या लोकल स्थानीय मैच आदि में पहले ऐसे किसी रिकॉर्ड का जिक्र नहीं है.15-year-old Rajasthan boy takes 10 wickets for no runs in a T20 game

वैसे टेस्ट मैच में एक पारी में दस विकेट चटकाने का रिकॉर्ड इंग्लैण्ड के जिमी लेकर और भारत के अनिल कुम्बले के नाम है. कुम्बले ने 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ 74 रन देकर सभी 10 विकेट झटके थे. जबकि जिमी लेकर ने 1956 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 53 रन देकर 10 विकेट हासिल किये थे. जिमी लेकर इसी टेस्ट की पहली पारी में 37 रन देकर 9 खिलाड़ी आउट किये थे.

Leave a Comment