पाकिस्तानी गेंदबाज का बड़ा दावा, 11 साल पहले अगर होता ऐसा तो भारत कभी न पाता वर्ल्ड चैंम्पियन - The Focus Hindi

पाकिस्तानी गेंदबाज का बड़ा दावा, 11 साल पहले अगर होता ऐसा तो भारत कभी न पाता वर्ल्ड चैंम्पियन

30 seconds सेकंड में वीडियो अपने आप प्ले हो जाएगी , PLEASE इंतजार करें

रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर पाकिस्तान के पूर्व तूफानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर को आज तक भारत के खिलाफ मोहाली में खेले गए विश्व कप के सेमीफाइनल में नहीं खेलने का अफसोस है. इस आइसीसी वनडे विश्व कप की मेजबानी भारत ने की थी और सेमीफाइनल में पाकिस्तान और फाइनल में श्रीलंका को हराकर खिताब जीता था. 46 साल के हो चुके शोएब अख्तर ने कहा कि यदि वह मोहाली में खेले गए आइसीसी विश्व कप के सेमीफाइनल में खेलते तो आज कहानी कुछ अलग होती और शायद भारतीय टीम विश्व कप चैंपियन भी नहीं बन पाती.

Advertisement

काश मैं खेलता तो कहानी अलग होती
उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा, मैं जानता था कि विश्व कप मेरे करियर का आखिरी टूर्नामेंट है. भारत के खिलाफ सेमीफाइनल मैैच खेलने के लिए मैं बहुत बेताब था. मोहाली की पिच तेज गेंदबाजी के लिए बहुत अच्छी थी. मैं यहां जितनी अधिक तेज होती, उतनी अधिक पेस से गेंदबाजी करता. यदि हम भारतीय टीम के शुरुआती 2-3 विकेट जल्द गिरा देते तो भारतीय टीम के लिए संभलना बेहद मुश्किल हो जाता. हम भारत को इस मैच में हरा सकते थे और यदि ऐसा होता तो भारतीय टीम विश्व कप नहीं जीत पाती बल्कि हम चैंपियन बनते.

अफरीदी ने की करियर की सबसे बड़ी गलती
शोएब ने कहा कि यह बात सही है कि उस समय के पाकिस्तान के कप्तान शाहिद अफरीदी के साथ उनके मतभेद थे. लेकिन बात जब देश की आती है और सामने विपक्षी टीम भारत हो तो मतभेद भुलाए भी जा सकते थे. शोएब ने कहा कि जब उन्हें पता चला कि उन्हें अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया है तो वह समझ गए कि अफरीदी अपने करियर की सबसे बड़ी गलती कर रहे हैं और आखिर में मैं सही साबित हुआ.

श्रीलंका को हरा चैंपियन बना था भारत
भारत ने सेमीफाइनल में 9 विकेट पर 260 रन बनाकर पाकिस्तान को 29 रन से शिकस्त दी थी. इसके बाद भारतीय टीम ने वानखेडे में खेले गए फाइनल में श्रीलंका को 6 विकेट से हराकर 28 साल बाद खिताब जीता था. 02 अप्रेल को खेले गए फाइनल में श्रीलंका ने 06 विकेट पर 276 रन बनाए थे. जवाब में भारतीय टीम ने कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की नाबाद 91 रन की पारी से 4 विकेट पर 277 रन बनाकर जीत दर्ज की थी.

Advertisement

Leave a Comment