Advertisement

क्रिकेट दुनिया का ऐसा खेल है जिसे लोग सबसे ज्यादा पसंद करते हैं। रोमांच और जुनून इस खेल में खूब देखने को मिलता है। खिलाड़ियों को चो’ट लगना आम बात है। लेकिन कभी-कभी चो’ट भ’यंकर रूप भी ले लेती है।

Advertisement

जिसके कारण खिलाड़ियों की द’र्द’ना’क मौ’त भी हो जाती है जो बेहद दु’खद होता है। आपको आज में क्रिकेटर की कहानी बताएंगे जो जो मैदान में गए तो जिं’दा थे पर वापस जिं’दा नहीं लौटे। आइए जाने ओसे क्रिकेटर के बारे में-

1-फिलिप ह्यूज
ऑस्ट्रेलिया टीम की तरफसे खलने वाले ह्यूज सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर घेरेलू शैफील्ड शील्ड ट्रॉफी के मैच में ह्यूज 63 रन बनाकर खेल रहे थे। वह न्यू साउथ वेल्स के 22 वर्षीय गेंदबाज सीन एबोट की एक गेंद को हुक करने के लिए आगे बढ़े लेकिन शॉट चूक गया। और गेंद सीधे उनके सिर के पीछे जा लगी। ह्यूज ने बाउंसर लगने के बाद पहले अपने हाथ घुटने पर रखे और फिर वे ग्राउंड पर मुंह के बल गिर पड़े। और 2 दीन बाद हॉ’स्पिटल में उनकी मौ’त हो गयी। ह्यूज सिर्फ 25 साल के थे और 3 दिन बाद अपना 26 जन्मदिन मनाने वाले थे।

2- डेरिन रैंडाल (दक्षिण अफ्रीका)
रैंडाल का नि’ध’न 32 वर्ष की अवस्था में 2013 में घरेलू टूर्नामेंट के दौरान बल्लेबाजी करते हुए गेंद लगने से हुई। 32 के इस खिलाड़ी का अचानक दुनिया से जाना भी क्रिकेट जगत के लिए झ’टका था।

3- जुल्फिकार भट्टी (पाकिस्तान)
पाकिस्तान के इस खिलाड़ी की छाती पर गेंद लगी थी और वह वहीं गिर गए थे। उन्हें तुरंत अ’स्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें डे’ड ऑन अराइवल घोषित कर दिया गया था।This Indian cricketer died due to not wearing a helmet | NewsTrack English 14- रमन लांबा(भारत)
भारत के इस पूर्व खिलाड़ी के सिर में ढाका में एक क्लब मैच के दौरान फील्डिंग करते हुए सिर में गेंद लगी थी। वह शॉर्ट लेग पर खड़े थे जो बल्लेबाज के करीब होता है। गेंद लगने के कारण उनके सिर में गहरी चोट आईं और वे तीन दिन तक को’मा में रहे और उन्हें मृ’त घोषित कर दिया गया।

5- इयान फोली (इंग्लैंड)
1993 में घरेलू टूर्नामेंट के तहत डर्बीशायर की तरफ से वर्किंगटन के खिलाफ खेलते हुए फोली की आंख के नीचे गेंद लगी। हालांकि 30 वर्षीय फोली का नि’धन उपचार के दौरान अ’स्पताल में दि’ल का दौ’रा पड़ने से हुई।

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *