टी20 वर्ल्ड कप से किया गेट आउट, आत्मविश्वास तोड़ा, संजू सैमसन की चोट पर BCCI की ये कैसी दवा? – The Focus Hindi

टी20 वर्ल्ड कप से किया गेट आउट, आत्मविश्वास तोड़ा, संजू सैमसन की चोट पर BCCI की ये कैसी दवा?

जुलाई 2015 में संजू सैमसन (Sanju Samson) ने भारत के लिए जिम्बाब्वे दौरे पर पहला टी20 मैच खेला था। उन्हें दूसरा मुकाबला खेलने के लिए करीब साढ़े चार साल इंतजार करना पड़ा। श्रीलंका के खिलाफ जनवरी 2020 में उन्होंने दूसरा मुकाबला खेला। उसके बाद से गिने चुने मौकों पर संजू को भारत के लिए खेलने का मौका मिल रहा है। 16 टी20 मैच खेलने के बाद भी अभी तक भारत के लिए उनका बल्लेबाजी स्थान पक्का नहीं है। वह पहले, दूसरे, तीसरे, चौथे, पांचवें और सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे चुके हैं।

2022 में दमदार प्रदर्शन
इस साल संजू सैमसन ने भारत के लिए 6 टी20 मैच खेले हैं। इसकी 5 पारियों में उनके बल्ले से 39, 18, 77, 30* और 15 रन निकले हैं। दो मैचों में उन्होंने ओपनिंग की और तीन मैचों में मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने उतरे। तीन पारियों में उनका स्ट्राइक रेट 150+ और दो में 130+ रहा। इसके बाद भी उन्हें एशिया कप की टीम में शामिल नहीं किया गया। एशिया कप में ऋषभ पंत विकेटकीपर बल्लेबाजी के रूप में टीम का हिस्सा थे। उन्हें सिर्फ पहले मैच में खेलने का मौका नहीं मिला।

पंत ने किया निराश
दूसरी तरह ऋषभ पंत ने 2022 में भारत के लिए 17 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। इसमें उनके बल्ले से 133 की स्ट्राइक रेट और करीब 26 की औसत से 311 रन निकले हैं। एशिया कप में पंत बुरी तरह फेल रहे। पहले और श्रीलंका के खिलाप महत्वपूर्ण मैच में वह कोई कमाल नहीं कर सके। आईपीएल 2022 के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 मैच की सीरीज में उनके बल्ले से 14.5 की औसत से सिर्फ 58 रन निकले थे। इसके बाद भी उन्हें वर्ल्ड कप टीम में जगह मिली है।

बीसीसीआई ने लगाई दवा
बीसीसीआई ने ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में भी उन्हें मौका नहीं दिया है। न्यूजीलैंड ए टीम भारत दौरे पर है। 22 सितंबर से इंडिया ए के खिलाफ उसे तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी है। इस सीरीज के लिए सैमसन को इंडिया ए का कप्तान बनाया गया है।

Leave a Comment