Advertisement

क्रिकेट में आये दिन रिकॉर्ड बनते और टूटते रहते हैं. और टी-20 जैसे छोटे प्रारूप के आने के बाद तो यह आम बात हो गई है.

Advertisement

अंतर्राष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट की शुरुआत 2005 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के मैच के साथ हुई थी. इस प्रारूप में क्रिकेट जगत के कई रोचक और मजेदार रिकॉर्ड बने हैं. ऐसा ही रिकॉर्ड बना था अगस्त 2019 में तुर्की औऱ चेक गणराज्य के बीच खेले गए मैच में. इस मैच में टी-20 के इतिहास का सबसे बड़ा और सबसे छोटा दोनो स्कोर बने.
इस टीम के नाम रिकॉर्ड

टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे कम स्कोर पर आउट होने का रिकॉर्ड तुर्की के नाम दर्ज हो गया. 30 अगस्त को चेक रिपब्लिक के खिलाफ तुर्की 21 रनों पर ऑल आउट हो गयी थी.

मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए चेक रिपब्लिक की टीम ने 4 विकेट पर 278 रन बनाये थे. जवाब में तुर्की की टीम 9वें ओवर में 21 रन बनाकर आउट हो गयी। उनके 8 बल्लेबाज अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे.

सबसे बड़ी हार भी थी
टी-20 क्रिकेट की यह सबसे बड़ी हार भी है। तुर्की को इस मुकाबले में 257 रनों की बड़ी हार मिली थी. दूसरे सबसे बड़ी हार भी उन्हीं के नाम दर्ज है। 173 रनों से रोमानिया ने उनके ऊपर जीत दर्ज की थी.


इसके अलावा तुर्की 28 और 32 रनों पर भी ऑल आउट हो चुकी है. यह क्रमशः दूसरा और तीसरा सबसे छोटा स्कोर है. उनसे पहले विश्व कप 2014 में नीदरलैंड की टीम श्रीलंका के खिलाफ 39 रनों पर आउट हो गयी थी.

टेस्ट और वनडे में इनके नाम रिकॉर्ड
क्रिकेट पारी में सबसे कम स्कोर पर ऑल आउट होने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के नाम दर्ज है. 1955 में इंग्लैंड के खिलाफ ऑकलैंड टेस्ट में उनकी टीम 26 रनों पर ऑल आउट हो गयी थी. 64 साल बाद भी यह रिकॉर्ड उनके नाम ही दर्ज है.

वनडे क्रिकेट में सबसे कम स्कोर पर ऑल आउट होने वाली टीम जिम्बाब्वे है. 2004 में श्रीलंका के खिलाफ मुकाबले में टीम 35 रनों पर ऑल आउट हो गयी थी. 18 ओवर में टीम सिर्फ 35 रन ही बना पाई और श्रीलंका ने आसानी से लक्ष्य हासिल कर लिया.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *