Advertisement

इंग्लैंड में 100 गेंदो के क्रिकेट प्रारूप ‘द हंड्रेड’ का आयोजन हो रहा है.

Advertisement

द हंड्रेड में शुक्रवार को महिला स्पर्धा में बर्मिंघम फोएनिक्स और लंदन स्प्रिट को बीच मुकाबला हुआ. इस मुकाबले में लंदन स्प्रिट ने 4 गेंद शेष रहते हुए 3 विकेट से जीत हासिल की. इस मैच में जीत लंदन स्प्रिट को मिली लेकिन बर्मिंघम की एक खिलाड़ी अबताह मकसूद केवल 5 गेंदे फेंककर ही चर्चा में आ गई हैं.

द हैंड्रेड में अपना पर्दापर्ण मैच खेल रहीं अबताह का इस मैच में प्रदर्शन तो ज्यादा खास नहीं रहा लेकिन उनके लुक ने सबका ध्यान जरूर आकर्षित किया. दरअसल, अबताह मकसूद क्रिकेट इतिहास की पहली महिला खिलाड़ी हैं जो की हिजाब में क्रिकेट खेलती हैं. उन्हे हिजाब वाली क्रिकेटर भी कहा जाता है.

अबताह मकसूद पाकिस्तान मूल की स्कॉटिश क्रिकेटर हैं. वह केवल 12 साल की उम्र में स्कॉटलैंड की अंडर17 टीम में खेल चुकी हैं. वह ताइक्वांडो में ब्लैक बेल्ट रखती हैं. मकसूद 2014 में ग्लासगो में खेले गए राष्ट्रमंडल खेलों में ध्वजवाहक रह चुकी हैं.

महज 11 साल की उम्र में पोलाक क्रिकेट क्लब में शामिल होकर क्रिकेट के मैदान पर कदम रखने वाली मकसूद स्कॉटलैंड की तरफ से 19 विकेट ले चुकी हैं. इस दौरान उनका औसत 10.38 का रहा है. उन्होने 2018 में युगांडा के खिलाफ अपना पहला टी20 अंतर्राष्ट्रीय खेला था.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *