Advertisement

UAE में चल रहे पाकिस्तान सुपर लीग में बाएं हाथ के एक बल्लेबाज का जबरदस्त कमाल देखने को मिला है. 23 साल के इस बल्लेबाज ने रन बनाए नहीं, बरसाए हैं. अबु धाबी के स्टेडियम का कोना कोना इसके जमाए शाट्स से गूंजा है.

Advertisement

ये बल्लेबाज अफगानी है, पर इसने पाकिस्तान की T20 लीग में लिखी जीत की कहानी है. इसने अपनी टीम पेशावर जाल्मी को कराची के किले पर विजय दिलाई है. इसके कमाल से पेशावर जाल्मी ने कराची किंग्स को 5 विकेट से हराया है. वो भी उस मुकाबले में जिसमें हारना मना था. क्योंकि ये एक एलिमिनेटर मैच था. कराची किंग्स को अकेले ही कुचलने वाले इस बल्लेबाज का नाम है- हजरतउल्ला जजई.

अफगानिस्तान के इस बल्लेबाज ने कराची किंग्स के खिलाफ मुकाबले में पेशावर जाल्मी की जीत की स्क्रिप्ट अकेले लिखी. पहले खेलते हुए मैच में कराची किंग्स ने बाबर आजम के 45 गेंदों पर 53 रन की पारी की बदौलत 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 175 रन बनाए. जवाब में पेशावर जाल्मी में अपने 23 साल के हीरो के दम पर मैच को 1 गेंद पहले ही जीत लिया.

ओपनिंग पर उतरा और टीम की जीत का बेस बनाकर गया
हजरतउल्ला जजई ने मुकाबले में पेशावर जाल्मी के लिए ओपन किया. क्रीज पर उतरे उन्हें देख ऐसा लगा जैसे जीत की जल्दी में हो. उन्होंने आते ही मार-धाड़ शुरू कर दिया. 23 साल के जजई के तेवर इतने टाइट थे कि मोहम्मद आमिर और थिषारा परेरा जैसे अनुभव से लैस गेंदबाज भी उनके आगे नहीं टिक पा रहे थे. ये अलग बात है कि फिर आगे उनका शिकार परेरा ने ही किया पर तब तक वो अपना रोल प्ले कर चुके थे. वो अपनी टीम की जीत की बुनियाद रख चुके हैं. वो उसे उस मुकाम तक पहुंचा चुके थे, जहां से जीत अब दूर नहीं थी.

38 गेंदों पर 77 रन, 10 चौके, 5 छक्के
पेशावर जाल्मी की जीत के हीरो बने अफगान बल्लेबाज ने 38 गेंदों पर 77 रन ठोके, जिसमें 70 रन केवल 15 गेंदों पर आए. ऐसा उन्होंने अपनी पारी में 10 चौके और 5 छक्के जमाकर किए. हजरतउल्ला जजई की इस पारी का स्ट्राइक रेट 202.63 का था, यानी उनकी आक्रामकता में कोई कमी नहीं थी. इस हार के साथ कराची किंग्स टूर्नामेंट से एलिमिनेट हो गए. जबकि जीत से पेशावर जाल्मी की उम्मीदें अभी जिंदा हैं.

एक ओवर में 37 रन बनाने का है रिकॉर्ड
हजरतुल्लाह जजई ने नाम टी20 की दूसरी सबसे बड़ी व्यक्तिगत पारी खेलने का रिकॉर्ड है. हजरतुल्लाह ने 2018 में आयरलैंड के खिलाफ 162 रन की तूफानी पारी खली थी. इस दौरान उन्होने एक ओवर में 6 छक्कों की मदद से 37 रन बनाए थे. पूरी पारी में उन्होने 11 चौके 16 छक्के जड़े थे.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *