Advertisement

बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को जेल में रात काटनी पड़ेगी.

Advertisement

आर्थर रोड जेल में एनसीबी के अधिकारी उन्हें पहले ही जेल लेकर पहुंच गए थे. लेकिन किला कोर्ट में सुनवाई चल रही थी. उम्मीद थी कि जमानत मिल जाएगी. लेकिन आर्यन खान को बड़ा झटका लगा है. कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी है. अब जेल में आर्यन खान कैसे रहेंगे, पढ़ें एक्सक्लूसिव रिपोर्ट.

क्या Aryan से मिलने NCB दफ्तर पहुंचे थे Shahrukh Khan? वायरल हो रहा ये FAKE वीडियो - did shahrukh khan met aryan khan in ncb office truth of viral video tmov - AajTakआर्यन खान के साथ बाकी आरोपियों को भी जेल के फर्स्ट फ्लोर पर बैरक नंबर 1 में रखा गया है. अभी के लिए किसी को भी यूनिफॉर्म नहीं दी गई है. सभी को पांच दिनों के लिए बैरक नंबर 1 क्वारनटाइन में रखा जाएगा. अगर किसी में भी कोरोना कोई लक्षण आता है तो उनका टेस्ट कराया जाएगा. हालांकि, आर्यन खान समेत सभी 8 आरोपी निगेटिव आए हैं.

सभी को कोविड-19 की दोनों डोज लगी हुई हैं, इसलिए इन्हें केवल पांच दिनों के लिए क्वारनटाइन में रखा जाएगा. किसी को भी स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं दिया जाएगा. बाकी के जेलवासियों की तरह ये रहेंगे.

एनसीबी की कस्टडी में अब तक आर्यन खान समेत बाकी आरोपियों को उनकी जरूरत के हिसाब से चीजें मुहैया कराई जा रही थी. लेकिन जेल में जाने के बाद आर्यन खान के साथ कोई स्पेशल ट्रीटमेंट में नहीं होगी. उन्हें घर का खाना खाने की जरूरत है तो कोर्ट से परमिशन लेनी होगी. वैसे कोर्ट के सख्त निर्देश हैं कि इनमें से किसी को भी बाहर का खाना मुहैया नहीं कराया जाएगा. जो जेल रुटीन है वही इन्हें फॉलो करना होगा. सुबह 6 बजे उठना होगा. आमतौर पर शहरों में लोग 9 से 10 के बीच सोकर उठते हैं.

7 बजे नाश्ता मिलता है, इसमें केवल शीरा और पोहा ही जेलवासियों को मिलता है. 11 बजे दोपहर का खाना मिलेगा. दिन और रात के खाने में रोटी, सब्जी और दाल चावल मिलते हैं. आर्यन खान समेत किसी भी आरोपी को जेल के अंदर घूमने की सुविधा उपलब्ध नहीं होगी, क्योंकि ये सभी पांच दिन क्वारनटाइन में रहेंगे. अगर आर्यन खान और बाकियों को एक्स्ट्रा खाना चाहिए होगा तो उन्हें कैंटीन में एक्स्ट्रा पेमेंट करना रहेगा.

यह पैसे मनी ऑर्डर के जरिए ये सभी लोग ले सकते हैं. शाम को 6 बजे रात का खाना मिल जाता है, लेकिन कुछ को यह खाना 8 बजे मिलता है. उन्हें बाकियों की तरह प्लेट अपने साथ रखनी होगी. जेल अधिकारियों के लिए सुबह 6 बजे से लेकर शाम के 6 बजे तक ही खुली होती है. इसके बाद किसी को अंदर आने की परमिशन नहीं.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *