Advertisement

इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टी20 मुकाबले में शैफाली वर्मा ने तूफानी पारी खेली.

Advertisement

उन्होने आतिशी अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए 48 रन बनाए, वह अपना अर्द्धशतक पूरा करने से 2 रन दूर रह गईं. इस दौरान उन्होने मैदान के चारों तरफ शॉर्ट लगाए. उनकी 38 गेंदो की पारी में 8 चौंको और 1 छक्का शामिल था. उन की इस पारी के दम पर टीम इंडिया ने 8 विकेट से जीत दर्ज की.

टीम इंडिया की सिक्सर क्वीन बनी शैफाली वर्मा केवल 17 साल की उम्र में ही कई कीर्तिमान अपने नाम कर चुकी हैं. वह 18 साल की उम्र से पहले 30 छक्के लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम कर चुकी हैं. उन्होने इतने सारे छक्के केवल 24 मैंचो में लगाए हैं.

कोई दूसरा खिलाड़ी शैफाली के इस रिकॉर्ड के आस-पास भी नहीं है. महिला क्रिकेट में 18 साल की होने से पहले सबसे ज्यादा छक्के लगाने में दूसरे नंबर पर दो खिलाड़ी हैं. भारत की जेमिमा रॉड्रिग्स और साउथ अफ्रीका की क्लो ट्रियोन. इन दोनों ने इंटरनेशनल टी20 मैचों में तीन-तीन छक्के लगाए थे.

शेफाली वर्मा ने 15 साल की उम्र में भारतीय टीम में कदम रखा था. उन्होंने टी20 फॉर्मेट के जरिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जगह बनाई. फिर ताबड़तोड़ अंदाज में अपने खेलने के तरीके से शेफाली सब तरफ अपनी छाप छोड़ी. उन्होंने 24 टी20 मुकाबलों में अभी तक 28.91 की औसत से 665 रन बनाए हैं. वह तीन अर्धशतक लगा चुकी हैं. उनके नाम इस फॉर्मेट में 81 चौके और 30 छक्के हैं. शेफाली अभी टी20 क्रिकेट में नंबर वन महिला बल्लेबाज हैं.

Advertisement

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *